7 Tips for Success From Sachin Tendulkar in Hindi

Tips for Success From Sachin Tendulkar

सचिन तेंदुलकर को आज कौन नहीं जानता विश्व के प्रसिद्ध सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ियों में अगर इनका नाम न हो तो वह सूची ही गलत ठहरा दी जा सकती है। आज सचिन तेंदुलकर के जीवन की कुछ महत्वपूर्ण और Motivational बातें यहाँ बताई जा रही है जो हर सफल होने की इच्छा रखने वालों के लिए जानना बेहद जरूरी है।

हाँ अगर सचिन तेंदुलकर के पूरे प्रसंगों को अगर लिखा जाए तो पूरा लेख भर सकता है पर उनकी Inspirational Stories कभी ख़तम ही नहीं होगी। अगर आप भी सफल होने की इच्छा रखते हैं और कुछ सीखना चाहते है जो आपके जीवन को आसान बना दे तो Sachin Tendulkar Story आपको बहुत Motivate करेगी।

7 Tips for Success From Sachin Tendulkar in Hindi

1. Always Believe In Yourself – हमेशा खुद पर यकीन रखें

हो सकता है की ये सब बातें आपको पहले से पता हो क्योंकि ये बातें तो सामान्य हैं लेकिन ये बातें सफलता के सूत्र हैं । इन बातों को अगर कोई अपने अनुभव से आपको बताये तो समझने और जीवन में उतारने में बेहद आसानी होती है।

सचिन तेंदुलकर कहते हैं की अगर आप अपने उपर भरोसा ही नहीं करोगे तो आप अपना मनपसंद काम कभी भी अच्छे तरीके से नहीं कर पाओगे। अगर आप एक Student हैं तो सबसे पहले आपको यह भरोसा करना होगा की आप अच्छे मार्क्स ला सकते है।

अगर आप एक जॉब प्रोफेशन में हैं तो आपको यह यकीन करना ही होगा की आप अपनी और अपनों की ज़िंदगी को बेहतर बना सकते हैं।

आप किसी भी प्रोफेशन में हो पर अगर आप किसी लक्ष्य को पाना चाहते हैं तो पहले आपको यह भरोसा होना चाहिए की आप उसे आसानी से पा लेंगे।

यह बातें है देखने और सुनने में तो सामान्य लगती है पर एकदम वैज्ञानिक है क्योंकि यहाँ पर सचिन तेंदुलकर जो बातें कह रहें हैं उन बातों को अगर अपने अवचेतन मस्तिष्क तक पंहुचा देंगे की आपके लिए आपका लक्ष्य पाना आसान होगा’ और बाकी के पूरे काम आपका अवचेतन मन पूरा करवा लेगा।

2. Be A good Person First- एक अच्छे व्यक्ति पहले बनें

Sachin Tendulkar अपनी आत्मकथा में लिखते हैं की आप कितने अमीर हैं या आप कितने सफल हैं यह एक समय के बाद कोई भी नहीं याद रखेगा , आप कैसे इंसान है यह आपके जाने के बाद भी सदा सर्वदा जीवित रहेगा।

आपका अच्छा इंसान होना यह हजारों लोगों में से आपको हीरे की तरह चमक देगा।

सफलता का एक निश्चित नियम है जिसे प्रकृति नें ही बनाया है की सफलता हमेशा धनात्मक चरित्र के लोगों को मिलती है अगर किन्हीं अपवाद वश किन्हीं नकारात्मक चरित्र के लोग किन्हीं कारण वश सफल हो भी गए तो उनकी सफलता निश्चित और शांतिदायक नहीं होती।

कहने का तात्त्पर्य यह है की आप जो भी करें हमेशा खुद से ईमानदार रहें।

इस तरीके से मिली हुई सफलता जीवन भर साथ रहती है और जीवन के बाद भी हमारे विचार लोगों में अमर रहती है और उन्हें प्रेरित करती है।

3. Love Your Work – अपने काम से प्रेम करिये

सचिन तेंदुलकर कहते हैं की सबसे पहले एक ऐसा प्रोफेशन पसंद कीजिये जिसे करने से आप कभी थके नहीं , कभी ऊबे नहीं। वही करिये जिसमें आपको ख़ुशी मिले और सफलता भी।

अगर आपको ऐसा काम नहीं मिला है तो नयी नयी चीज़े try करके अपने प्रोफेशन को खोज निकालिए अगर आप पहले से ही अपना लक्ष्य चुन चुके हैं तो अपने काम से प्रेम करना शुरू कर दीजिये।

सचिन तेंदुलकर ने अपने आत्मकथा में इस बात का बड़े अच्छे तरीके से ज़िक्र किया है की कैसे वे मैदान पर Grounds Man से पहले आ जाया करते थे और उनके आने के 2 घंटे बाद उनके सारे साथी मैदान पर आते थे।

उनके साथ और 2011 के विजेता भारतीय टीम के कोच गैरी कस्टर्न कहते है की उन्होंने नेट्स में सबसे ज्यादा गेंद सचिन तेंदुलकर को अभ्यास कराई है और सचिन हमेशा औरो से ज्यादा अभ्यास किया करते थे |

यहाँ पर इस बात का संकेत वे कर रहें है की अगर आपको अपने काम से प्रेम है तो आप उसे पूरे दिन भर करने में नहीं थकेंगे अर्थात यह नहीं आप दिन भर अभ्यास करें बल्कि यह है आप जिस भी काम को कर रहें है उसे 100 प्रतिशत लगाव और समर्पण से करिये।

4. Make Good Discipline – खुद को अनुशाशित रखिये

वे कहते हैं की जितना बड़ा आपका सपना होगा वह आपसे उतने ही अनुशासन और समर्पण की मांग करेगा।  वे अपने school के दिनों में दिन भर में 2 अभ्यास सत्र को पूरा करते थे यानी एक सुबह से दोपहर तक और एक दोपहर से शाम 7 बजे तक। यहाँ पर उनका मत यह है की आप बिना कड़ी मेहनत किये कहीं नहीं पहुँच सकते अगर आप एक विद्यार्थी हैं तो आपको भी पढ़ाई करनी ही होगी अगर आप कोई व्यवसाय में है तो आपको मेहनत करना ही होगा क्योंकि अगर सफलता का कोई शोर्टकट होता तो हर कोई सफल हो जाता।

5. Be Smart With your Hard work – कड़ी मेहनत के साथ समझदारी

आपको पता है सचिन तेंदुलकर के शरीर में सैंकड़ो पैन किलर इंजेक्शन लग चुके है उनकी 10 से भी ज्यादा सर्ज़री हो चुकी है , उन्होंने 102 बुखार में शतक मारा है।

यह सब कैसे मुमकिन हुआ ? इसके उत्तर में वें कहते हैं की शुरुवात के दिनों से ही वे अपने हर शॉट्स को घर पर जाकर Visualize करते थे और उसे सर्वश्रेष्ठ बनाने की रोज़ कोशिश करते थे। यहाँ पर यह तात्पर्य है की अगर आप बिना प्लानिंग किये मेहनत करते रहेंगे तो वह बहुत कम सफलता दिलाएगी।

अगर आप रोज़ खुद की कमियों को दूर करते रहेंगे और अपने काम करने के तरीक़े को उत्तम बनाते रहेंगे तो आप अपने काम में एक ग़जब की सटीकता देखेंगे की जो काम आप 6 घंटे करते थे उसी काम को आप 3 घंटे में और उससे कारगर तरीके से कर पा रहें है।

6. Be Positive And Never Lose Hope – सकारात्मक रहें और कभी हार न मानें

सचिन तेंदुलकर कहते हैं की हर कार्य में उतार चढ़ाव आते हैं अगर आप एक अच्छे शूरवीर की तरह अपने काम में ध्यान लगाये रहेंगे तो आप देखेंगे की वे कठिनाइयाँ कितनी आसानी से दूर हो गयी। हम कभी-कभी निराश हो जाते हैं जिसे विज्ञान बहुत गलत आदत बताता है क्योंकि हर वक़्त हमारा दिमाग सक्रिय रहता है आप जैसे भी सोच विचार, भावनाएं खुद के लिए निर्मित करते हैं आपका दिमाग उसे एक आदेश के रूप में लेता है और उसे पूरा करने में जुट जाता है।इसलिए हमेशा आशान्वित रहें लेकिन खुद से ! और अपने आज को कल से बेहतर बनाने के प्रयास में जुटे रहें |

7. Consistency in Your work – निरंतरता ही सफलता दिला सकती है

आप किसी भी प्रोफेशन से क्यों न हो पर उपर बताई गयी या आपके खुद के सूत्रों पर अगर नियमित और निरंतर न रहा जाए तो फिर जिंदगी जीने में मज़ा नहीं आएगा क्योंकि ये चीज़े आजीवन जीवन भर आपको काम आएँगी। यानी अगर आप विद्यार्थी है तो आपको रोज़ अपने knowledge को sharp करना ही पड़ेगा। यहाँ पर सचिन तेंदुलकर का यह तात्पर्य है की आप अपने लक्ष्य को कुछ भागों में बांट लें और Step by Step और time table बना कर रोज़ पूरा करें और रोज़ शाम को अपने काम का हिसाब देखें। जिन कामों में अगर थोड़ी भी नरमी या आलस्य दिखे ऐसे कामों में दोगुने मनोवेग से मेहनत करें।अपने समय का लेखाजोखा रखे क्योंकि समय ही सबकुछ है हमेशा यह सोचें की इस समय का सबसे अच्छा उपयोग मैं कहाँ कर सकता हूँ।

Conclusion – निष्कर्ष

यहाँ पर कुछ Inspirational Thoughts in Hindi का उल्लेख किया गया है आशा है इन महत्वपूर्ण बातों को आप अपने जीवन में उतारे और इस पोस्ट के हेतु को सफल करे। अगर आपके पास भी ऐसी कोई महत्वपूर्ण विचार हैं तो हमसे ज़रुर share करें।

Comments

No comments yet. Why don’t you start the discussion?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *